हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Monday, November 19, 2018
Follow us on
मनोरंजन
मुम्बई लौटते ही 'मणिकर्णिका' के प्रमोशन में व्यस्त हो गई कंगना

परिजनों संग दीवाली मनाकर मुंबई लौटी बॉलीवुड क्वीन कंगना राणावत अपनी आनेवाली फिल्म मणिकर्णिका के प्रमोशन में व्यस्त हो गई है। परिवार के सदस्यों के अनुसार कंगना मनाली रुकना चाहती थी लेकिन मणिकर्णिका फ़िल्म की व्यस्तता के कारण उन्हें मुंबई लौटना पड़ा। कंगना रणोत 5 नवम्बर को मानली पहुंची थी। कंगना मणिकर्णिका फ़िल्म की डबिंग में व्यस्त है। यह फ़िल्म 25 नवम्बर को रिलीज होगी।

इन्होंने की पहल और अब गिनीज़ बुक में है दर्ज़ है कुल्लुवी नाटी

कुल्लू की नाटी अंतर्राष्ट्रीय ख्याति अर्जित कर चुकी है और इसका नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज़ हो चुका है. यह सब यूं ही नहीं हुआ. एक शख्सियत ने इसके लिए पच्चास के दशक में पहल की... अभियान छेड़ा.. और अब यह नाटी हर मेले, उत्सव व समारोह का अटूट हिस्सा बन चुकी है. 

इन्होंने दिया हिमाचली संगीत को आधुनिक रूप

बेशक आज हिमाचली संगीत अत्याधुनिकता के दौर से गुजऱ कर यहां- वहां, जहां-तहां बजता हुआ सुनाई देता है. हिमाचली संगीत का डिजिटल दुनियां में एक बहुत बड़ा बाज़ार आज हमारे समक्ष है. गांव की दहलीज़ लांघ कर पहाड़ी संगीत की सौंधी महक मायानगरी तक अपनी खूश्बू बिखेर चुकी है. यह सब यूं ही नहीं हुआ, कुछ शख्सियतों ने इसके लिए पहल की अभियान छेड़ा. ऐसे लोगों में जाने माने संगीतकार एस डी कश्यप को यदि अगुआ कहा जाए तो कोई हर्ज नहीं होगा. इस अभियान में वे लोकापवाद का पात्र भी बने रहें. लोगों के विरोध के बावजूद भी हिमाचली संगीत को आधुनिकता के साथ ज़माने के साथ कदमताल की. यही कारण है हिमाचल संगीत को वर्तमान रूप देने का पूरा श्रेय संगीत प्रेमी एवं विलक्षण प्रतिभा के धनी सिने संगीतकार एस. डी कश्यप को ही जाता है.

कंगना ने कुछ इस तरह मनाई मनाली में दीवाली

बॉलीबुड क्वीन कंगना रानौत ने अपने मनाली आशियाने में इको फ्रेंडली दीवाली मनाई। यह पहला मौका है जब कंगना ने मनाली में आपने नए आशियाने में दीवाली मनाई। उन्होंने अपने घर को दिए से सजाया लेकिन उन्होंने पटाखो से दूरी बनाए रखी। कंगना ने जिला कुल्लू प्रशासन की क्लीन दीवाली की पहल का समर्थन किया।

माईनस तापमान में इस सुन्दरी के सर सजा 'मिसेज मनाली हिमाचल' का ताज

 बर्फ के फाहे ...जीरो तापमान...कम्पा देने वाली मनाली ठण्ड.....मनु रंग शाला का रंग, बेरंग मौसम में रंग भर रहा था। प्रदेश भर से आई सुंदरियां मिसेज मनाली हिमाचल के ताज के लिए न सिर्फ अपनी प्रतिद्वंदियों से टक्कर ले रही थी बल्कि मनु रंग शाला में उनकी टक्कर बेईमान मौसम से भी थी। इस कड़े मुकाबले और संघर्ष के बीच मिसेज मनाली हिमाचल का ताज सजा बैजनाथ की मोनिका शर्मा के सर। हिमालयन अकादमी मनाली द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता में बिलासपुर की डॉ मोनिका रही उपविजेता रही। मनाली की भूमिका तीसरे स्थान पर रही।

बाघल उत्सव में दिखेगा हिमाचल संस्कृति का आईना

हिमाचल की संस्कृति को सरंक्षित रखने व ग्रामीण क्षेत्रों में छुपी प्रतिभा को मंच प्रदान करने को लेकर अर्की के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में एक बैठक आयोजित की गई । इस बैठक की अध्यक्षता समाजसेवी पदम वर्मा व नमिता शर्मा ने की । बैठक में आने वाले कुछ महीनों में बाघल उत्सव करने बारे चर्चा व इसकी रूपरेखा तैयार की गई ।

चौथा अर्न्तराष्ट्रीय शिमला फिल्म समारोह कल से शुरू

तीन दिवसीय अर्न्तराष्ट्रीय शिमला फिल्म समारोह का आगाज हिमालयन वेलोसिटि एवं सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के संयुक्त तत्वधान में 12 अक्तूबर 2018 से गेयटी थियेटर के सभागार में होगा। इस फिल्म समारोह में राष्ट्रीय एवं अर्न्तराष्ट्रीय स्तर की 28 देशों की फिल्मों को मंचन गेयटी थियेटर में किया जाएगा। इस फिल्म समारोह में डाक्यूमेन्टरी फिल्मस, शार्ट फिल्मस, ऐनीमेशन फिल्मस और फिचर फिल्मो का मंचन किया जाएगा। इस फिल्म समारोह में फिल्म निर्देशकों के साथ एक प्रैस से मिलिए सेशन का आयोजन भी प्रतिदिन किया जाएगा।