क्या वीरभद्र के ब्यान से कांग्रेस को नुक्सान होगा?