हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Monday, November 19, 2018
Follow us on
कांगड़ा
मुख्यमंत्री ने धर्मशाला में रखी फॉरेंसिक लेब DNA खण्ड की आधारशिला

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज कांगड़ा जिला की क्षेत्रीय फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला उत्तरी क्षेत्र धर्मशाला के डीएनए खण्ड की आधारशिला रखी। इस प्रयोगशाला का निर्माण एक करोड़ रुपये की लागत से किया जाएगा और यह आरएफएसएल धर्मशाला से डीएनए रिपोर्ट प्राप्त करने में चम्बा, कांगड़ा तथा ऊना जिलों की मदद करेगी। 

लोकसभा चुनावों की आहट : मुख्यमंत्री हर संसदीय क्षेत्र की टटोल रहे नब्ज

प्रदेश की जयराम सरकार अब लोकसभा चुनावी दहलीज पर पहुंच गई है। हालांकि देश में लोकसभा चुनाव अगले साल होने हैं, लेकिन सत्तासीन पार्टीभाजपा ने विपक्ष यानी कांग्रेस से पहले ही चुनावी बिगुल बजा दिया। समय कम और मिशन रिपीट का संकल्प लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी स्वयं हर संसदीय क्षेत्रों में पार्टी कार्यकर्ताओं सहित जनता की नब्ज टटोलने चले हैं।

अजय गुप्ता को स्वास्थ्य निदेशक बनने पर संघ ने दी बधाई, अब रखी यह मांग

बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं पर्यवेक्षक संघ जिला कांगड़ा ने डॉ. अजय गुप्ता को स्वास्थ्य विभाग के निदेशक बनाए जाने पर ख़ुशी जाहिर की है। इसके साथ ही हुउद्देशीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं पर्यवेक्षक संघ जिला कांगड़ा ने सरकार से मांग की है कि बहुउद्देश्यीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता पुरूष का पदोन्नति बैच शीघ्र स्वीकृत किया जाए। संघ ने रिक्त पदों को शीघ्र भरने की मांग भी की है।

राष्ट्रपति ने नवाजे टांडा मेडिकल कॉलेज के होनहार

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज हिमाचल प्रदेश के डॉ. राजेन्द्र प्रसाद राजकीय मेडिकल कालेज कांगड़ा के प्रथम दीक्षांत समारोह में शिरकत की और मेडिकल कालेज के आठ मेधावी छात्र-छात्राओं को 11 स्वर्ण पदक प्रदान किए।

यहां जीरो बजट में पारंपरिक तरीके से होती है लाल चावल की खेती

हिमाचल की दुर्गम चौहार घाटी मे आज भी प्राकृतिक रूप से परंपरागत तरीके से लाल चावल उगाया जाता है। आज के युग में केमीकल खेती ने जहां खाद्य पदार्थों की गुणवता पर सवालिया चिन्ह लगा दिए हैं वहीं प्रदेश में आज भी कुछ दुर्गम क्षेत्रों में परंपरागत खाद्यों पदार्थों की खेती की जा रही है। इसी में शामिल है चौहार घाटी के चौहारटु चावल जो अपने लाल रंग व अपनी औषधीय गुणवत्ता के कारण विशेष महत्व रखते हैं। हरित क्रांति के दौर में अधिक उत्पादन देने वाली किस्मों की ओर किसानों के रूझान से दूर चौहार घाटी के किसान आज भी लगभग एक हजार हैक्टेयर में लाल चावलों की चौहारटी किस्म उगा रहे हैं। पब्बर नदी के दोनों तटों पर उगाए जाने वाले चावलों की यह किस्म प्रदेश के अन्य चावलों से पूर्णतय भिन्न है।

गम्भीर बीमारी से जकड़े बेटे तिल तिल मरता देख बिलखती है रुलदी, आप भी करें मदद

बैजनाथ के दियोल गांव की रुलदी देवी हर समय अपनी किस्मत पर रोती बिलखती है। अपने बड़े बेटे को खो चुकी रुलदी देवी का दुर्भाग्य देखिए अब उनका छोटा बेटा राज कुमार उम्र 39 साल भी किसी अज्ञात बीमारी की चपेट में आ कर बिना इलाज के धीरे-धीरे मौत के आगोश में जा रहा है। 

इंडियन ओपन पैराग्लाईडिग से पूर्व सिंगापुर के पायलट की दर्दनाक मौत

बीड बिलिंग से उड़ान भरने के बाद एक विदेशी पायलट कि बंदला की पहाड़ियों में फंस जाने से मौत हो गई है। जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह सिंगापुर के 55 वर्षीय पायलट कॉक चुंग ने उड़ान भरी लेकिन हवा के रुख के कारण बंदला की पहाड़ियों में फंस जाने से उसकी मृत्यु हो गई है। 

25 दिनों से टांडा के ओटी की बिजली गुल, मंत्री ने लगाई फटकार

इसे टांडा मेडिकल कालेज प्रबन्धन की कुव्यवस्था कहे या बिजली विभाग की लापरवाही ...टांडा मेडिकल कालेज के ओटी की बिजली गुल होने का मामला प्रदेश सरकार तक पहुंच गया है। 

स्वास्थ्य मंत्री 28-30 अक्तूबर तक कांगड़ा दौरे पर

हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार 28 अक्तूबर को प्रातः 9 बजे बिलिंग में अतंराष्ट्रीय पैराग्लाडिंग प्रतियोगिता, इंडियन ओपन 2018 का शूभारंभ करेंगे।

बीड़ बिलिंग में उड़ान भरते ही दुर्घटना का शिकार हुए दो पैराग्लाइडर

विदेश के दो पैराग्लाइडर उड़ान भरने के बाद दुर्घटना का शिकार हो गए। दोनों ने बीड़ बिलिंग से उड़ान भरी थी, लेकिन रास्ते में दोनों को हादसे का शिकार होना पड़ा। हालांकि हादसे के कारणों का स्पष्ट पता नहीं चल पा रहा है। पहला हादसा बरोट के पास हुआ, जहां रशिया निवासी वेनजियम पैराग्लाइर सहित नीचे गिर गया। इसकी पीठ में चोट आई है। बरोट अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद इसे जोगिंद्रनगर रेफर किया गया, लेकिन वहां पर एक्स-रे न हो पाने के कारण इसे पालमपुर रेफर कर दिया गया।

डिजिटल बाबा ने सिखाया योग

स्वामी राम शंकर महाराज डिजिटल बाबा द्वारा बच्चों के लिए चलाए कार्यक्रम 'बच्चे बनेंगे अच्छे' योग आसान सिखाए। उन्होंने कार्यक्रम में आए बच्चों को बताया कि समस्त ज्ञान विज्ञान का स्रोत वेद हैं। समस्त विधाएं, चाहे ज्ञान विज्ञान के क्षेत्र में या फिर कला साहित्य के क्षेत्र में, सब वेद से ही प्रकट हुई हैं। उन्होंने श्रीमद्भागवत गीता के दो श्लोकों का उच्चारण भी सिखाया और उसके अर्थ को सरल भाषा में भी बताया।

साहब सड़क पक्की करवा दो, गाडियां हिचकोले खाती हैं

बैजनाथ विधानसभा के बही गांव के लोगों ने लोक निर्माण विभाग से गुहार से लगाई है के प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनी बही सड़क पर टायरिंग कर दो, यहां गाडियां हिचकोले खाने लगती है। इससे पूर्व इस सड़क की टायरिंग 20 साल पहले पका हुई थी, लेकिन उसके बाद इस सड़क की किसी ने सुध तक नहीं ली। ऐसे में यहां के लोग नई सरकार से उम्मीद लगाए बैठी है।

इंडियन ओपन पैराग्लाइडिंग प्रतियोगिता में बीड़ बिलिंग से 155 मानव परिंदे भरेंगे उड़ान

विश्व प्रसिद्ध पैराग्लाइडिंग घाटी बीड़ बिलिंग में 27 अक्टूबर से 3 नवंबर तक आयोजित होने वाली इंडियन ओपन 2018 पैराग्लाइडिंग प्रतियोगिता में 155 पायलटों ने अपना पंजीकरण करवा दिया है। इस प्रतियोगिता में पुरुष वर्ग में 16 देशों के 136 प्रतिभागियों और महिला वर्ग में पांच देशों की 19 महिलाओं ने अपना पंजीकरण करवाया है। बीड़ बिलिंग में प्रस्तावित पैराग्लाइडिंग प्रतियोगिता मैं 120 प्रतिभागियों को ही भाग लेने की अनुमति मिलेगी। ऐसे में प्रतिभागियों का आंकड़ा इससे ऊपर जाता है तो एफ ऐ आई द्वारा निर्धारित मापदंडों को जांचा जाएगा। 

पानी की बूंद-बूंद को तरसे क्न्दराल के लोग

बैजनाथ उपमंडल की कदंराल पंचायत में पिछले 20 दिनों से पानी की बूंद-बूंद को तरस रहे हैं। लगभग 300 के करीब आबादी वाले इस गांव पिछले लम्बे समय से गंदे नाले का पानी पी रहे हैं। दूषित पानी पिने से गाँव वालों पर संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। उधर आईपीएच विभाग विकराल होती इस गांव की समस्या की कोई सुध नहीं ले रहा। गांव के लोगों कहना है कि पहले भी वे कई बार पानी की समस्या के बारे में विभाग को बता चुके हैं लेकिन विभाग कुम्भकर्णी नींद में सोया है।