हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Sunday, November 18, 2018
Follow us on
कुल्लू
सैंज घाटी के बरशांघड़ में लगी आग, देवालय सहित 6 घर राख

सैंज घाटी के बरशांघड़ गांव में अभी अभी आग लग गई है। आग लगने से 11 परिवारों के 6 घर पूरी तरह से जलकर राख हो गए हैं और 5 घरों को आंशिक नुकसान हुआ है। आग देवता जी कोठी (देवालय) से शुरू हुई है। यह मंदिर देवता सरू नाग का है।

शशि मल्होत्रा और पप्पी बिष्ट बनी महिला कल्याण बोर्ड की सदस्य
आनी भाजपा मंडल के अंतर्गत निरमंड खंड के अरसू वार्ड से जिला परिषद सदस्य पप्पी बिष्ट और आनी की भाजपा नेत्री शशि मल्होत्रा को हिमाचल प्रदेश सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा हिमाचल महिला कल्याण बोर्ड में सदस्या नियुक्त किया गया है ।
कल से बंद होंगे कुल्लू-लाहौल में दूरदर्शन के छोटे टावर, यह है कारण

दूरदर्शन महानिदेशालय अपनी स्थलीय प्रसारण सेवाओं का युक्तिकरण करने जा रहा है।

देखें, मनाली की कोठी गांव में बर्फबारी का नजारा

ताजा बर्फबारी के बाद मनाली के कोठी गांव के खूबसूरत नजारे 

सड़क सुविधा से जुड़ेंगे आनी के ये दो गांव

विकास आनी की कुंगश पंचायत के अंतर्गत सीमावर्ती गांव अब जल्द ही सड़क जैसी मूलभूत  सुविधा से जुड़ सकेंगे। सरकार ने इन गांवों को पंचायत कनेटिविटी के तहत सड़क निर्माण की मंजूरी प्रदान की है। मंगलवार को पंचायत के माध्यम से लगभग 5 लाख रु की लागत से बनने बाली किरण बाजार से तेशन, ढाई किमी लम्बी सड़क के निर्माण कार्य को शुरू करने के लिए आनी विधानसभा क्षेत्र के विधायक किशोरीलाल सागर ने भूमि पूजन कर निर्माण कार्य का विधिवत शुभारंभ किया।

नग्गर स्कूल में बनेगी अत्याधुनिक लैब, ये होगी सुविधाएं

वन, परिवहन, युवा सेवाएं व खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा है कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला नग्गर में अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस साइंस लैब बनाई जाएगी। इसमें विज्ञान के विद्यार्थियों के लिए सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। मंगलवार को इस पाठशाला के वार्षिक उत्सव में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करते हुए गोविंद सिंह ने यह जानकारी दी। 

नेहरू को भाया इस चश्मे का पानी तो नामकरण हुआ 'नेहरू कुण्ड'

जब वर्ष 1958 में प्रधानमंत्री बनने के बाद पं. जवाहर लाल नेहरू मनाली आए तो वः घूमते घूमते वे मनाली से पांच किलोमीटर दूर बाहंग पहुंचेl उन्होंने ग्लेश्यिरों से निकल रहे इस कुंड का पानी पीया। स्थानीय लोग बताते हैं कि पंडित नेहरू को इस चश्मे के पानी का स्वाद भाया कि वे इस पर मंत्र मुग्‍ध हो गए। जब उन्होंने स्थानीय लोगों इस चश्मे के पानी के स्वाद के बारे में पूछा तो लोगों ने उन्हें बताया कि ये पानी सबसे साफ तो है ही, लेकिन कई हिमालय की दुर्लभ जड़ी बूटियों का रस भी इसमें घुला है जो कई बीमारियों को रोकता है। फिर क्या था, इस कुंड का पानी पं. नेहरू के लिए दिल्‍ली तक ले जाया जाने लगा और यहीं से इस चश्में का नाम नेहरू कुंड पड़ गया। 

इस नर्तकी ने कुल्लुवी नाटी पर थिरकने को मजबूर किया था पं. नेहरू को

पंडित जवाहर लाल नेहरु हिमाचल के लोगो की सादगी और भोलेपन के कायल थेl वे हिमाचली लोकसंस्कृति और परम्पराओं के कायल थेl हिमाचल की लोक नृत्य पर उनके कदम खुद ब खुद थिरकने लगते थेl हिमाचल के पूर्व भाषा मंत्री लाल चंद पार्थी से उनके मैत्रीपूर्ण सबन्ध थे और ये दोनों मिल के कुल्लुवी नाटी पर खूब थिरकते थेl 

जब नेहरू ने जगतसुख में चखा सिडडू और फैमड़े का स्वाद

नेहरु गांधी परिवार का हिमाचल प्रदेश से हमेशा गहरा लगाव रहा हैl बात चाहे देश के प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू की हो या देश की प्रथम महिला प्रधानमन्त्री इंदिरा गांधी की, हिमाचल की वादियां इन्हें सदैव आकर्षित करती रही हैl इस परिवार का हिमाचल के लिए दिया योगदान अविस्मरणीय हैl 

अब दिव्यांगो को मिलेगी यह सुविधा

विकलांग अधिकार अधिनियम-2016 के तहत अब सभी विकलांग लोगों के यूडीआईडी कार्ड यानि यूनिवर्सल डिसेबिलिटी आईडेंटिफिकेशन कार्ड ऑनलाइन ही बनाए जाएंगे। ये नए कार्ड भारत सरकार की वैबसाइट स्वावलंबनकार्ड डॉट जीओवी डॉट इन पर ऑनलाइन आवेदन के साथ बनाए जाएंगे। ये ऑनलाइन आवेदन लोकमित्र केंद्रों के माध्यम से किए जाएंगे।

राष्ट्र स्तरीय शरदोत्सव मनाली में होंगे ये रोमांचकारी खेल

वन, परिवहन, युवा सेवाएं व खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि हर वर्ष की भांति इस बार भी मनाली का पांच दिवसीय राष्ट्र स्तरीय शरदोत्सव 2 से 6 जनवरी तक मनाया जाएगा। इसमें सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा साहसिक खेल गतिविधियों को भी विशेष बढ़ावा दिया जाएगा। यह जानकारी वन मंत्री ने सोमवार को एसडीएम कार्यालय मनाली के सभागार में राष्ट्र स्तरीय शरदोत्सव की तैयारियों को लेकर आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। 

लाहुली किसानों की समस्या पर पूर्व विधायक और मंत्री में मंथन

लाहुली किसानो का 9 करोड़ से अधिक का आलू मनाली में सड़ रहा है। इस आलू को शीघ्र मार्किट नही मिली तो सब आलू खराब हो जाएगा। रवि ठाकुर ने कहा कि इस समस्या को प्रदेश सरकार गम्भीरता से और किसानों को राहत दे। उन्होंने कहा कि अभी लाहुल घाटी के लोगो को सर्दियों का सामान ले जाना शेष है। इसलिए बीआरओ को सड़क बहाल रखने को कहा जाए और रोहतांग को बहाल रखा जाए।

 

भस्मासुर से बचने के यहां छुपे थे शिव

हिमाचल प्रदेश देवभूमि है. यहां ज़र्रे-ज़र्रे पर हजारों देवी-देवताओं का वास है. प्रदेश के कण-कण में आस्था रमी हुई है. हर छोटे-बड़े मंदिरों सहित ऊंचे पहाड़ों पर बसे आस्था के प्रतीक स्थलों की अनूठी कहानी है. पांडुलिपियों, शिलालेखों, अभिलेखों और दंतकथाओं के आधार समस्त प्रदेश में इन परंपराओं और मान्यताओं का प्रचलन है. इसी तरह हिमालय की गोद में करीब 20 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित श्रीखंड कैलाश में महादेव शिव वास को लेकर भी मान्यता है कि वे भस्मासुर से बचते हुए यहां आए थे.

इन्होंने की पहल और अब गिनीज़ बुक में है दर्ज़ है कुल्लुवी नाटी

कुल्लू की नाटी अंतर्राष्ट्रीय ख्याति अर्जित कर चुकी है और इसका नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज़ हो चुका है. यह सब यूं ही नहीं हुआ. एक शख्सियत ने इसके लिए पच्चास के दशक में पहल की... अभियान छेड़ा.. और अब यह नाटी हर मेले, उत्सव व समारोह का अटूट हिस्सा बन चुकी है. 

कागज़ी घोड़े पर सवार योजनाएं : खेत प्यासे, हाईड्रम गायब

प्रदेश में आज भी 91 फीसदी लोग कृषि करते हैं. प्रदेश की अर्थिकी में कृषि क्षेत्र, बागवानी क्षेत्र की अहम भूमिका है.सिंचाई के बिना कृषि उत्पादन साल दर साल प्रभावित हो रहा है. मौसम की बेरूखी बारिश पर किसानों निर्भरता किसानों के लिए बदलते जलवायु में घाटे का सौदा साबित हो रही है. 

निरमंड में मोदी सरकार पर बरसे सुक्खू मुफ्त में कानूनी सलाह चाहिए तो इन दिनों को आएं कुल्लू कुल्लू प्रशासन का अलर्ट : मौसम बिगड़ने वाला है ऊंची पहाड़ियों पर न जाएं भौंरूथाच : ये सादगी...भोलापन और कहां कंगना ने कुछ इस तरह मनाई मनाली में दीवाली मनाली में बिजली व्यवस्था के लिए ये योजनाएं लेकर आए गोबिंद ठाकुर कुल्लू मनाली का प्रवेश द्वार और फिर भी फटेहाल है भुंतर दिव्यांगो और गरीबों से दीवाली का सामान खरीदा, पर्यटकों को उपहार में दिया इस बार कुल्लू की दीवाली में होगी ये खास बातें रोहतांग की बहाली को बीआरओ की कसरत शुरू मंत्री ने चेताया : जनमंच के मामलों को गंभीरता से लें अधिकारी बर्फबारी से अस्त व्यस्त हुआ यहां का जनजीवन माईनस तापमान में इस सुन्दरी के सर सजा 'मिसेज मनाली हिमाचल' का ताज इस संस्था ने 1893 में लार्ड मैकाले की शिक्षा नीति को दी थी चुनौती रोहतांग दर्रे में हिमपात जारी, लाहुल में फंसे सैंकड़ो वाहन, बस सेवाएं बंद देवी देवताओं के आगमन के साथ सिराज उत्सव शुरू यहां होगी भारी बारिश और बर्फबारी, अलर्ट जारी फोरलेन प्रभावितों की समस्याओं का समाधान जल्द : गोविंद सिंह ‘रन फाॅर यूनिटी’ के लिए दौड़े बच्चे, युवा और बुजुर्ग यहां लगाया पटाखों पर प्रतिबंध उपेक्षा का शिकार बंजार जन्म से राक्षसी स्वभाव से देवी हिडिम्बा के इस मन्दिर की क्या है खासियत, जानिए आप भी पर्यटन मानचित्र पर उभरेगा बंजार का सौन्दर्य 31 को 'रन फॉर यूनिटी' के लिए दौड़ेगा कुल्लू