हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Wednesday, May 22, 2019
Follow us on
हिमाचल

हिमाचल के तीन वनरक्षक कर्नाटक में होंगे सम्मानित

हिमाचल न्यूज़ | December 06, 2018 09:11 AM

शिमला : फोटोग्राफी के माध्यम से वन्यप्राणी और पक्षियों के प्रति जागरूकता लाने के लिए हिमाचल प्रदेश के तीन वनरक्षकों को दिल्ली की वन्यप्राणी संस्था स्ट्रेबो पिक्सल क्लब द्वारा राईजिंग स्टारके रूप में सम्मानित किया जाएगा|यह जानकारी स्ट्रेबो पिक्सल क्लब की तरफ से जारी एक प्रेस बयान में दी गई |

हिमाचल प्रदेश वन विभाग में ग्रेट हिमालयन नेचर पार्क कुल्लू में कार्यरत विनय कुमार, पुवेंद्र सिंह आर मनोज कुमार फोरशू को इस सम्मान के लिए चुना गया है|

स्ट्रेबो पिक्सल क्लब ने बताया कि हिमाचल के इन तीन वन रक्षकों का चयन देश भर के नौजवानों में से किया गया है | इसके अतिरिक्त पंजाब के पटियाला से नौजवान अधिवक्ता और वन्यप्राणी फोटोग्राफर अमित कुमार बेदी और दिल्ली के आशीष चौधरी को भी इस सम्मान के लिए चुना गया है | यह सम्मान कर्नाटका के गणेशगुडी में हो रहे एक समारोह में 7 दिसंबर को दिया जाएगा|

इस समारोह में देश भर के चर्चित वाईल्डलाईफ फोटोग्राफर शिरकत कर रहे हैं, जिनमें  मैसूर के नागामुत्थू, चंडीगढ़ के जतिंदर विज, हिमाचल के प्रकाश बादलफरीदाबाद के राजीव भाटिया, मुम्बई के मनोज केजरीवालदिल्ली के दिनेश कथूरिया, अनिता, और अनु बिश्नोईलखनऊ की प्रीती चतुर्वेदी, और उत्तराखंड के वन्यप्राणी गाईड नीरदेव बनकोटी भी भाग लेंगे| इस अवसर पर तीन दिवसीय सम्मलेन में वन्यप्राणी और पक्षियों को बचाने और उनके प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए परिचर्चा भी होगी और फोटोग्राफी के माध्यम से पक्षियों के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए एक शिविर भी लगाया जाएगा |

Have something to say? Post your comment
और हिमाचल खबरें
डोभी में पैराग्लाइडिंग हादसे में सैलानी सहित 2 की मौत
हर संस्थान की हो आपदा प्रबंधन योजना: यूनुस
लगघाटी में एक निजी बस दुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत
कांग्रेस का हाथ आतंकियों के साथ,देशद्रोह क़ानून हटाने के पीछे देशविरोधी ताक़तों को संरक्षण देने की मंशा:अनुराग ठाकुर
कांग्रेस की देशद्रोही मानसिकता का जवाब लोकसभा चुनावों में देगी जनता : सुरेश भारद्वाज
प्रार्थी ने प्रदेश में लिखी है विकास की इबारत...सत्य प्रकाश ठाकुर
आचार संहिता के दौरान अब तक 5.27 करेाड़ की शराब जब्त
पण्डित सुखराम आया राम गया राम राजनीति की संस्कृति के प्रतीक -चंद्रमोहन
बंजार में हुआ रोजगार मेले का आयोजन-90 दिव्यांगों को मिला रोजगार
नहीं रहे पहाड़ी लोकगायक गिरधारी लाल वर्मा