हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Thursday, March 21, 2019
Follow us on
हिमाचल

हिमाचल न्यूज़ बुलेटिन : 24 घंटे की बड़ी खबरें

हिमाचल न्यूज़ टीम | January 10, 2019 09:10 AM
हिमाचल न्यूज़ ब्रेकिंग,प्रातःकालीन बुलेटिन,सायंकालीन बुलेटिन,ताजा समाचार,स्थानीय समाचार,राजनीतिक समाचार,आज का पंचांग,आज का राशिफल,आज का इतिहास,आज विशेष

हिमाचल न्यूज़ : प्रातःकालीन बुलेटिन 10 जनवरी 2019

हड़ताल से बैंकों में ठप्प रहा काम, मजदूरों ने सरकार के खिलाफ निकाला गुब्बार
शिमला : वाम समर्थित केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर बुधवार को भी राजधानी शिमला में विभिन्न ट्रेड यूनियनों से जुड़े कर्मचारियों व मजदूरों ने हड़ताल में भाग लिया तथा एक रैली का आयोजन का केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ गुब्बार निकाला। इस दौरान एसबीआई को छोड़कर अन्य राष्ट्रीयकृत बैंकों में भी कामकाज ठप्प रहा, जिससे उपभोक्ताओं को परेशानी झेलनी पड़ी। एलआईसी सहित अन्य केंद्रीय संस्थानों में भी हड़ताल का आंशिकर असर रहा। हालांकि प्रदेश सरकार से संबंधित अधिकतर सरकारी संस्थानों में काम काज बदस्तुर चलता रहा।

धर्मशाला में अवैध निर्माणों पर हाई कोर्ट सख्त : नगर निगम से मांगी स्टेटस रिपोर्ट
शिमला : हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट ने धर्मशाला निगम क्षेत्र में हुए अवैध निर्माणों की जानकारी मांगते हुए नगर निगम धर्मशाला को आदेश दिए हैं कि वह स्टेटस रिपोर्ट की माध्यम से अवैध निर्माण करने वालों के खिलाफ की गई कार्यवाही कोर्ट के समक्ष रखे। मुख्य न्यायाधीश सूर्यकांत व न्यायाधीश अजय मोहन गोयल की खंडपीठ ने निगम आयुक्त को आदेश दिए कि वह इंजीनियरिंग विंग के सक्षम कर्मियों को हिदायत दें कि वे कम से कम हर पखवाड़े में एक बार क्षेत्र के विभिन्न इलाकों का दौरा करें और दौरे के दौरान पाए गए अवैध निर्माण अथवा अतिक्रमण की रिपोर्ट उन्हें सौंपे। इसके पश्चात अवैध निर्माण पाए जाने पर मालिक को एक सप्ताह के भीतर कारण बताओ नोटिस जारी करें। यदि अवैध निर्माण साबित हो जाए तो उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने के आदेश भी दिए गए हैं। कोर्ट ने डीसी व एसपी कांगड़ा को नगर निगम की पूरी सहायता करने के आदेश भी दिए।

पर्यटन की दृष्टि से विकसित होंगे हरिपुर और गुलेर
शिमला : राज्य सरकार कांगड़ा जिले के हरिपुर-गुलेर क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने के अतिरिक्त गुलेर चित्रकला को संरक्षित करने और लोकप्रिय बनाने का प्रयास करेगी क्योंकि इस क्षेत्र में बड़ी संख्या में गुलेर राज्य से सम्बन्धित ऐतिहासिक स्मारक मौजूद हैं, जो प्राचीन गुलेर राज्य की याद ताजा करते हैं। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने देहरा के विधायक होशियार सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल द्वारा किए गए ‘पेंटिंग आर्ट हिस्ट्री ऑफ वर्ल्ड रिनॉन्ड हरीपुर-गुलेर’ पर प्रस्तुति की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र में कई अनछुए गतंव्य हैं, जिनका आवश्यक अधोसंरचना विकसित करके पर्यटन की दृष्टि से विकास किया जाएगा। पूरे शहर में कई ऐतिहासिक मंदिर जैसे कि कल्याणराय, गोवर्धनधारी, तारारानी मंदिर, रामचंद्र मंदिर, जो कि अपनी विशिष्ट एवं अद्वितीय शिल्प कौशल और पत्थर की नक्काशी के कारण राष्ट्रीय धरोहर है। सरकार क्षेत्र के सम्पूर्ण विकास के लिए रेणुकाजी विकास बोर्ड की तर्ज पर हरिपुर-गुलेर विकास बोर्ड के गठन पर विचार करेगी।

हिमाचल को कृषि कर्मण्य पुरस्कार
शिमला : हिमाचल प्रदेश कृषि विभाग को कुल खाद्यान्न उत्पादन श्रेणी-2 में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए भारत सरकार के कृषि मंत्रालय ने कृषि कर्मण्य पुरस्कार 2016-17 के लिए चयनित किया है। इस पुरस्कार समारोह में हिमाचल को कृषि के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने पर प्रशस्ति पत्र और पुरस्कार राशि दी जाएगी। यह पुरस्कार फरवरी-मार्च 2019 में दिल्ली में आयोजित होने वाले कृषि उन्नति मेले में दिया जाएगा।

25 मार्च को होगी कौशल विकास भत्ता घोटाले की सुनवाई
शिमला : हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट में कौशल विकास भत्ते में घोटाले की जांच से जुड़े मामले में सुनवाई 25 मार्च के लिए टल गई। कोर्ट ने प्रदेश के युवा बेरोजगारों को मिलने वाले कौशल विकास भत्ते में घोटाले की आशंका जताते हुए प्रदेश सरकार से उन सभी संस्थानों का ब्यौरा मांगा है, जो इस भत्ते को प्रशिक्षुओं में आबंटित करते हैं। सरकार की ओर से मामले की सुनवाई के दौरान बताया गया कि पुलिस व प्रशासन की ओर से कुछ सूचनाएं मिली हैं, जबकि अन्य जिलों से सूचनाएं एकत्रित करने के लिए छह सप्ताह का अतिरिक्त समय लगेगा। मुख्य न्यायाधीश सूर्यकांत व न्यायाधीश अजय मोहन गोयल की खंडपीठ ने पुलिस व प्रशासन की अलग-अलग जांच रिपोर्टों को कोर्ट के समक्ष रखने के आदेश दिए। कोर्ट ने उन सभी शिक्षण अथवा ट्रेनिंग संस्थानों का ब्यौरा भी मांगा है, जिन्हें राज्य सरकार हर महीने 1000 रुपए प्रति प्रशिक्षु कौशल भत्ता जारी करती है।

हाई कोर्ट के आदेश : एमर्जेंसी के मरीजों का तुरंत हो इलाज
शिमला : हाई कोर्ट ने आपातकालीन हालातों में अस्पताल में लाए मरीजों का तुरंत उपचार करने हेतु राज्य सरकार को जरूरी दिशा-निर्देश जारी करने के आदेश जारी किए हैं। कोर्ट ने स्वास्थ्य विभाग के निदेशक को आदेश दिए हैं कि वह तुरंत प्रभाव से राज्य के सभी उपनिदेशकों व मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश जारी करें कि अस्पताल में गंभीर स्थिति में लाए गए मरीजों का बिना किसी देरी के उपचार हो। मेडिको लीगल केस में डाक्टर को मरीज के हॉस्पिटल में आने की तारीख व समय लिखने के भी आदेश दिए हैं। इन परिस्थितियों में पुलिस को तुरंत सूचना देने के लिए भी निर्देश देने को कहा गया है। कोर्ट ने कहा कि जो भी मरीज अस्पताल में आता है, उसके इलाज संबंधित पूरा ब्यौरा अस्पताल को सुरक्षित रखना होगा। ये निर्देश प्राइवेट अस्पतालों पर भी लागू रहेंगे। वरिष्ठ न्यायाधीश धर्म चंद चौधरी व न्यायाधीश सीबी बारोवालिया की खंडपीठ ने एक अपील की सुनवाई के दौरान ये आदेश पारित किए। कोर्ट ने स्वास्थ्य विभाग के निदेशक को आदेशों की अनुपालना करने में शपथ पत्र दाखिल करने के आदेश भी दिए हैं।

नेरचौक मेडिकल कॉलेज में इसी सत्र से लगेंगी एम्स की कक्षाएं
मंडी : बिलासपुर में बन रहे हिमाचल के एकमात्र अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की कक्षाएं इसी सत्र में शुरू हो सकती हैं। ये कक्षाएं नेरचौक स्थित लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज में बैठाने की तैयारी है। इसके लिए केंद्र सरकार ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। केंद्र ने हिमाचल सरकार को पत्र लिखकर कमेंट्स मांगे हैं। वहीं राज्य सरकार ने नेरचौक मेडिकल कॉलेज प्रबंधन से इस बाबत रिपोर्ट मांगी है। बताया जा रहा है कि कुछ सुविधाएं जुटाने का हवाला देते हुए प्रबंधन ने एम्स की कक्षाएं बैठाने के लिए हामी भर दी है।

स्कूल शिक्षा बोर्ड का फैसला : अब एसबीआई-एचडीएफसी में भी जमा होगी फीस
धर्मशाला : हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड में फीस डिपोजिट करने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। विद्यार्थी अपनी फीस एक नहीं, बल्कि तीन बैंकों के माध्यम से फीस जमा करवा पाएंगे। पहले प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से सिर्फ केसीसी बैंक के साथ ही पेमेंट गेटवे की व्यवस्था थी, लेकिन अब विद्यार्थी अपनी फीस भारतीय स्टेट बैंक व एचडीएफसी बैंक में भी जमा करवा सकते हैं। केसीसी बैंक की कई जगह पर शाखाएं नहीं हैं, जिसके चलते शिक्षकों व छात्रों को दिक्कते झेलनी पड़ती थीं।

अप्रैल से सूबे की हर पंचायत में होगा डिजिटल भुगतान
शिमला : डिजिटल क्रांति की ओर बढ़ रहे भारत के पहाड़ी राज्य हिमाचल के नाम नए वित्त वर्ष की पहली अप्रैल को एक और उपलब्धि जुड़ जाएगी। हिमाचल की सभी 3226 पंचायतों कैश व चैक पेमेंट बंद हो जाएगी। पंचायत अब हर तरह के भुगतान को प्रधान व सचिव के डिजिटल सिग्नेचर द्वारा सीधे बैंक खाते में ही करेगी। प्रदेश सरकार ने इसके लिए पंचायती राज विभाग के अधिकारियों को भी जल्द से जल्द इसकी प्रक्रिया को पूरा करने के निर्देश दिए हैं। जानकारी के अनुसार प्रदेश के सभी ब्लॉक अधिकारियों द्वारा पंचायतों को 2006 के चैक के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज 15 जनवरी से पहले जमा करने को कहा गया है।

हिमाचल में होगा प्राकृतिक खेती का विस्तार
कांगड़ा : जीरो बजट प्राकृतिक खेती को विस्तार देने के लिए प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय ने 420 लाख रुपए की शोध परियोजना ‘हिमाचल प्रदेश में शून्य लागत प्राकृतिक खेती की तकनीकों का मूल्यांकन, परिशोध व प्रसार’ सरकार को प्रेषित की है। इसका उद्देश्य गेहूं, मक्का, धान, चना, मसूर, गन्ना, रागी तथा कंगनी, कोदा पर पैकेज ऑफ प्रैक्टिस तैयार करना व निर्वाह सुरक्षा हेतु इनकी कृषि तकनीकों को हिमाचल प्रदेश के किसानों तक पहुंचाना है। इस परियोजना के अंतर्गत प्रदेश की भौगोलिक आधार पर चिन्हित फसलों के जर्मप्लाज्म के संरक्षण व बीज वृद्धि के लिए कार्य किया जाएगा। गाय और याक के गोबर तथा मूत्र से उत्पादित फसलों का मात्रात्मक व गुणात्मक आधार पर अध्ययन किया जाएगा। इसी तरह पहाड़ी तथा अधिक दूध देने वाली संकर किस्म की गउओं का तुलनात्मक अध्ययन किया जाएगा। इस कृषि-विधा हेतु राज्य सरकार ने विश्वविद्यालय को तीन करोड़ रुपए की प्रारंभिक सहायता दी है। पहले वर्ष ही विश्वविद्यालय ने 12 देशी गउएं पालने की शुरुआत की है। कृषि विज्ञान केंद्र ऊना व कुल्लू को विशेषतौर से इस पर कार्य करने को कहा गया है।

किशन कपूर को राहत के खिलाफ याचिका खारिज
शिमला : हिमाचल सरकार के खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर के विरुद्ध निचली अदालत में चल रहे आपराधिक मामले को बंद करने के खिलाफ दायर याचिका को गुणवत्ताहीन पाए जाने पर हाई कोर्ट ने खारिज कर दिया है। न्यायाधीश विवेक सिंह ठाकुर ने अरुण देव बिष्ट द्वारा दायर याचिका को खारिज करते हुए उसे यह छूट दी कि वह क्लोजर रिपोर्ट के खिलाफ आपत्ति दर्ज करने के लिए विशेष जज वन शिमला की अदालत के समक्ष आवेदन दाखिल कर सकता है। किशन कपूर के खिलाफ यह आरोप है कि उन्होंने वर्ष 2008 में तत्कालीन धूमल सरकार में शहरी विकास मंत्री तथा हिमुडा के चेयरमैन रहते अपने और धर्मपत्नी के अलावा कुछ अन्य लोगों को डिस्क्रीशनरी अधिकार के तहत प्लॉट आबंटित कर दिए थे।

खुलासा : रेल इंजन में शार्ट सर्किट से लगी थी आग
शिमला : विश्व धरोहर कालका-शिमला रेलवे ट्रैक पर मंगलवार को हिमालय क्वीन के इंजन में लगी आग के बाद रेलवे अधिकारियों ने प्राथमिक जांच की। प्राथमिक जांच में सामने आया कि इंजन में शार्ट सर्किट के कारण यह घटना घटी है। हालांकि इस इंजन को सुरक्षा अधिकारियों की जांच के लिए बड़ोग रेलवे स्टेशन से बुधवार को कालका भेजा गया है। जहां इंजन में आग लगने के असली कारणों का पता चल पाएगा। प्राथमिक जांच करने के बाद इंजन के मशीनी चैंबर को सील कर कालका भेज दिया, ताकि रास्ते मे इससे कोई छेड़छाड़ न कर सके।

सतलुज में गिरी बोलेरो गाड़ी, दो की मौत, तीन घायल
रामपुर बुशैहर (शिमला) : किन्नौर जिले के रामनी गांव को जाने वाले पुल के पास बोलेरो कैंपर अनियंत्रित होकर सात सौ मीटर गहरी खाई में जा गिरी। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है। जबकि, तीन अन्य घायल हो गए हैं। गाड़ी के चालक की हालत गंभीर बताई जा रही है। ये सभी रामनी गांव के रहने वाले बताए जा रहे हैं। रात करीब आठ बजे ये सभी बोलेरो कैंपर में सवार होकर रामनी गांव जा रहे थे। इसी दौरान पुल के पास हादसा हो गया। हादसे में रविराज (45) पुत्र माल चंद और राम कुमार (27) पुत्र कृष्णा ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था। अनिल कुमार (30) पुत्र यशवंत, लखवीर (20) पुत्र श्याम लाल और चालक बीरमा चंद (26) पुत्र ख्याली राम को घायल अवस्था में पीएचसी टापरी में उपचार दिया गया। यहां से इन्हें खनेरी अस्पताल रेफर कर दिया गया है।

ठियोग के क्यारटू में हादसा, दो की जान गई
शिमला : ठियोग के क्यारटू में एक कार सड़क से नीचे जा गिरी, जिससे दो लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि गाड़ी में दो ही लोग सवार थे। वे घर की ओर जा रहे थे कि क्यारटू के पास गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई। दोनों सवारों को गंभीर चोटें आईं। स्थानीय लोगों तथा पुलिस की मदद से दोनों को सिविल अस्पताल ठियोग लाया गया, लेकिन इन दोनों ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। मृतकों की पहचान श्यामलाल (45) पुत्र प्रताप सिंह निवासी केलवी, ज्ञानचंद (31) पुत्र सीताराम के रूप में हुई है।

मकान में अचानक भड़की आग, जिंदा जले दो मासूम
चंबा : सुंगल पंचायत के गांव पंजूण में दो मंजिला मकान की छत पर बने घास के शेड में आग लगने से दो सगे मासूम भाई जिंदा जल गए। हादसा बुधवार दोपहर को उस समय हुआ जब परिवार के सभी लोग अपने-अपने काम से बाहर गए थे। मासूम रिशु (7) और बिशु (5) पुत्र पप्पू राम खेलते-खेलते खिड़की के रास्ते शेड में पहुंच गए, जबकि शेड का दरवाजा बंद था। शेड में पशुओं का चारा रखा था। अचानक घास में आग की चिंगारी सुलगी और देखते ही देखते विकराल हुई आग ने दोनों मासूमों को अपनी चपेट में ले लिया। बाहर निकाले जाने पर बुरी तरह झुलसे दोनों की सांसें थम चुकी थीं। दमकल कर्मियों और स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत से आग पर काबू पाया। आग लगने के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है।

ढाबे में भीष्ण आग में जिंदा जला युवक
शिमला : दुकान में लगी भीषण आग में भीतर सो रहे एक युवक की जिंदा जलकर मौत हो गई। मृतक दुकान में काम करने वाला मजदूर था और नेपाली मूल का है। आग से राख हुई दुकान (ढाबा) में खाना बनाया व परोसा जाता था। घटना राजधानी शिमला के ढली थाना क्षेत्र के चलोंठी इलाके की है।

बंदूक से गले में फायर कर दी जान
पांवटा साहिब (सिरमौर) : धारटीधार इलाके की कांडो कांसर पंचायत के स्वाडा नडासी गांव में एक व्यक्ति ने अपने गले में बंदूक से फायर कर जीवन लीला समाप्त कर ली है। गले में कारतूस लगने से गले के चिथड़े-चिथड़े हो गए हैं। पुलिस को व्यक्ति के घर से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने लिखा है कि वह अपनी मृत्यु का स्वयं जिम्मेवार है।

होटल के कमरे में मिला बैंक अधिकारी का शव
शिमला : जिला शिमला के रोहडू शहर के एक निजी होटल के कमरे में बुधवार को बैंक के एक अधिकारी का शव मिलने से हड़कम्प मच गया। मृतक 56 वर्षीय सुभाष चंद शर्मा यूको बैंक के क्षेत्रीय निरीक्षण कार्यालय चंडीगढ़ में वरिष्ठ प्रबन्धक (निरीक्षण) के पद पर नियुक्त थे। वह मूलतः राजस्थान के अलवर के रहने वाले थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पड़ताल शुरू कर दी है। शुरुआती छानबीन में मौत को लेकर किसी तरह की साजिश सामने नहीं आई है।

मौसम समाचार : कल से फिर बारिश-बर्फबारी
हिमाचल में कल से फिर मौसम करवट लेगा। विभाग ने प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना जताई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के तहत प्रदेश 11-12 जनवरी को कई जगह बारिश-बर्फबारी होगी। विभाग ने 12 जनवरी को पहाड़ों पर भारी बारिश व बर्फबारी की चेतावनी जारी की है। प्रदेश में 13 जनवरी तक मौसम खराब रहेगा। 14 जनवरी को राज्य में मौसम साफ बना रहेगा, जबकि 15 जनवरी को फिर मौसम के तेवर कड़े बने रहेंगे। प्रदेश में बुधवार को दिन भर धूप खिली रही, जिससे अधिकतम तापमान में फिर से एक से सात डिग्री सेल्सियस तक का उछाल आया है, जबकि न्यूनतम तापमान में कोई उल्लेखनीय परिवर्तन नहीं आया है। कल्पा, केलांग और मनाली का न्यूनतम पारा अभी भी माइनस में चल रहा है।

प्रस्तुति : हिमाचल न्यूज़

ये भी पढ़ें 

आज का पंचांग :  10 जनवरी 2019- जानिए आज का शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज का राशिफल : इन राशियों के लिए होगा कुछ खास, पढ़ें दैनिक राशिफल 

आज का इतिहास : भारत और विश्व इतिहास में 10 जनवरी की प्रमुख घटनाएं  

Have something to say? Post your comment
और हिमाचल खबरें