हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Tuesday, October 22, 2019
Follow us on
 
राजनीति

कांग्रेस के इस टिकट आवेदनकर्ता ने दिखाए तल्ख तेवर, दे डाली यह चेतावनी

हिमाचल न्यूज़ | February 01, 2019 04:52 PM
हिमाचल न्यूज़
हमीरपुर : हमीरपुर सीट पर कांग्रेसियों द्वारा लोकसभा चुनावों में टिकट के लिए आवेदन करने के बाद तल्ख तेवर भी दिखने लगे है। लोकसभा टिकट के लिए आवेदन कर लौटे शौर्य चक्कर विजेता कर्नल विधि चंद लगवाल ने ये ऐलान किया है कि जिन कांग्रेसियों ने लोकसभा चुनाव में टिकट के लिए 50 हजार शुल्क देकर आवेदन किया है, यदि उनमें से किसी को टिकट न देकर आवेदन न करने वालों में से किसी को टिकट दिया तो आवेदन शुल्क ब्याज सहित वापस लिया जाएगा। यह बात उन्होंने प्रेस वार्ता में कही।
 
उन्होंने कहा कि हिमाचल वीर भूमि फौजियों की बदौलत ही कहलाई जाती है। प्रदेश में सबसे ज्यादा सैनिक व भूतपूर्व सैनिक हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में है, यही वजह है कि एक फौजी ही इस सीट को काग्रेंस पार्टी को जीत दिला सकता है। उन्होंने कहा कि 1996 में भी एक पूर्व सैनिक ने हमीरपुर की सीट कांग्रेस के लिए जीती थी।  उन्होंने कहा देश सेवा के बाद अब समाज सेवा करने के चलते ही टिकट के लिए आवेदन किया है। उन्होंने कहा कि हमीरपुर संसदीय क्षेत्र पूर्व सैनिक बहुल है। इनमें भी डोगरा रेजीमेंट के सैनिक अधिक है। उन्होंने कहा कि वह 35 साल फौज में रहे व शौर्य चक्कर का सम्मान प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि पार्टी हाईकमान अगर पूर्व सैनिक को टिकट देती है तो हमीरपुर संसदीय सीट भाजपा से छीनी जा सकती है।
 
कर्नल लगवाल ने कहा कि टिकट का आवेदन कर उन्होंने अपनी दावेदारी तय की है। अब पार्टी हाईकमान को इस बारे सोचना होगा। उन्होंने कहा कि हालांकि उन्होंने टिकट के लिए आवेदन किया है फिर भी पार्टी हाईकमान जिसे भी टिकट देगा उनके लिए काम किया जाएगा।
Have something to say? Post your comment
और राजनीति खबरें
रमेश कुमार कान्टा को ब्लॉक कांग्रेस कमेटी नेरवा की कमान
कार्यकर्ताओं को जीत के ये मंत्र दिए जय राम ने
लोक चुनाव के लिए जनता के सुझावों से घोषणा पत्र बनाएगी भाजपा , तैयार किया यह रोडमैप
हिमाचल में प्रदेश कांग्रेस की नई घोषित
लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका : प्रवक्ता दीपक शर्मा समर्थकों सहित कांग्रेस में शामिल
यशवंत छाजटा के आरोप, जय राम सरकार शिमला से कर रही है सौतेला व्यवहार
'आ अब लौट चले' से नाराज कांग्रेसियों की घर वापसी करेंगे राठौर
'फिजूलखर्ची बंद करें जय राम सरकार, नहीं तो होगा आंदोलन'
शिमला प्रकरण के बाद ऐसे टूटेगी सुक्खु समर्थकों की चुप्पी
राठौर ने भंग की सुक्खू की नौ दिन पहले बनाई ब्लॉक कमेटी