हिंदी ENGLISH Tuesday, July 14, 2020
Follow us on
 
राजनीति

यशवंत छाजटा के आरोप, जय राम सरकार शिमला से कर रही है सौतेला व्यवहार

हिमाचल न्यूज़ | February 03, 2019 06:24 PM

हिमाचल न्यूज़
शिमला : जिला कांग्रेस कमेटी शिमला के अध्यक्ष यशवंत छाजटा ने प्रदेश सरकार पर शिमला से भेदभाव का आरोप लगाया है। मीडिया को जारी ब्यान में उन्होने कहा कि जिला शिमला में पूर्व सरकार में बागवानी क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिये भारत सरकार के सहयोग से 1134 करोड रूपये का बागवानी प्रोजेक्ट जस का तस पडा है। जिला शिमला के शिलारू में सैंटर फाॅर एक्सिलैंस जैसा महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट का काम भी ठप्प पड़ा है। इसके अलावा शीत क्षेत्रों में पैदा होने वाले फलों का शोकेस, जरोल, रोहडू, कोटखाई व कुमारसैन (ओडी ) के ए. सी. स्टोरस और पराला में जूस फैक्टरी का काम भी इस सरकार के आने के बाद बन्द पडा है और जिला शिमला के बागवान ठगा सा महसूस कर रहे है।

उन्होने बताया कि डैढ सौ करोड की लागत से बनने वाली कुर्पण खुड पेयजल योजना का कार्य भी लगभग बंद पडा है। इस योजना से दंतनगर से लेकर ठियोग तक की जनता को पेयजल उपलब्ध होना है। उन्होने कहा कि पूर्व सरकार ने इस योजना पर 84 लाख रूपये अबंटित किए थे लेकिन जयराम सरकार के ढुलमुल रवैये से परियोजना अधूरी रहने की आशंका बढ़ गई है।

पर्यटन के क्षेत्र में पूर्व सरकार ने नारकण्डा में स्की लिफट के लिये 25 लाख रुपए एचपीटीडीसी को उपलब्ध करवाये थे परंतु आज तक इस पर कोई प्रगति नहीं हो पाई। जय राम सरकार का शिमला के प्रति उदासीन एवं सौतले व्यवहार से जिला शिमला की जनता क्षुब्ध है।

Have something to say? Post your comment
और राजनीति खबरें
बस किराया बढ़ाने पर राठौर ने जमकर कोसा प्रदेश सरकार को
पंचायत चुनाव से पहले बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं से संवाद करेगी कांग्रेस सोशल मीडिया
भाजपा महिला मोर्चा की कार्यकारिणी का विस्तार, इन्हें मिली जगह
शिमला शहरी और ग्रामीण कांग्रेस की कार्यकारिणी घोषित : इन्हें मिली कमान
युवा इंटक के जिला अध्यक्ष का पलटवार, कहा पूर्व मंत्री पर लगाए सभी आरोपों को सिद्ध करे भाजपा
भाजपा नेता संजय शर्मा ने पूर्व मंत्री पर लगाए ये बड़े आरोप
प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष को लेकर कांग्रेस -भाजपा आमने-सामने
राठौर ने उठाए प्रदेश सरकार पर ये बड़े सवाल
कोविड संकट के दौरान विपक्ष में रहते हुए भी मददगार साबित हुई है कांग्रेस
शांत हुई धवाला की ज्वाला!