Follow us on
 
मेरी पंचायत

मुख्यमंत्री ने पंचायत प्रधानों से कही ये बड़ी बातें

सोमसी देष्टा : शिमला | May 14, 2020 06:25 PM
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पंचायत प्रधानों से बातचीत करते मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर। फोटो : हिमाचल न्यूज

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने ग्राम पंचायतों के प्रधानों और अन्य लोकतांत्रिक संस्थाओं के चुने हुए प्रतिनिधियों से अपने-अपने क्षेत्रों में कोरोना महामारी के प्रसार को रोकने तथा इससे निपटने के लिए उचित प्रबधंन करने का आह्वान किया है। उन्होंने राज्य में होम क्वारंटीन सुविधाओं के क्रियान्वयन को सुनिश्चित करने के लिए आगे आने का आग्रह भी किया।

मुख्यमंत्री ने आज यहां मंडी और कुल्लू जिला के पंचायती राज संस्थानों के चुने हुए प्रतिनिधियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे हुए एक लाख से अधिक हिमाचलवासी राज्य में वापस लौट आए हैं और कोरोना वायरस के दृष्टिगत लगभग 60 हजार और लोगों ने राज्य में वापस आने की इच्छा जताई है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि सरकार ने रेड जोन से आने वाले लोगों को संस्थागत क्वारंटीन में रखने का निर्णय लिया है लेकिन ग्रीन व ऑरैन्ज जोन से आने वाले लोगों में भी कोरोना संक्रमण होने की संभावना हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को होम क्वारंटीन में रखा जा रहा है, इसलिए यह जरूरी है कि नियमों का पालन करना सुनिश्चित किया जाए ताकि परिवार के अन्य लोग संक्रमण से बच सके।

मुख्यमंत्री ने पंचायत प्रधानों से आग्रह किया कि राज्य सरकार द्वारा शुरू किए गए निगाह कार्यक्रम को प्रभावी ढ़ग से लागू करने में अपने पूरा सहयोग दे। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम उन लोगों के लिए शुरू किया गया है जिन्हें होम क्वारंटीन में रखा गया है ताकि वह होम क्वारंटीन का उल्लंघन न कर सके। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि ऐसे परिवारों को सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए प्रेरित करने के लिए आगे आए जहां पर परिवार के सदस्यों को होम क्वारंटीन में रखा गया है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों को उनके अपने संबंधित क्षेत्रों में देश के अन्य हिस्सों से आने वाले लोगों की सूचना पहले होनी चाहिए ताकि उस व्यक्ति के घर पहुंचने से पहले पृथीकरण आइसोलेशन के संबध में उचित कदम उठाए जा सके।

मुख्यमंत्री ने प्रधानों से अपने-अपने क्षेत्रों में विभिन्न विकासात्मक कार्यों को प्रभावी ढंग से करने का भी आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इससे न केवल यह सुनिश्चित होगा कि विकास की गति निर्बाध हो, साथ ही स्थानीय लोगों को भी रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि मनरेगा के अन्तर्गत कार्यों को प्रभावी ढंग से निष्पादित करने के लिए भी कदम उठाए जाने चाहिए क्योंकि सरकार ने इसके लिए पर्याप्त धन उपलब्ध करवाया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाज के हर वर्ग के कल्याण को सुनिश्चित करने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के वित्तीय पैकेज की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि यह आज़ादी के बाद का सबसे बड़ा आर्थिक पैकेज है, जो आर्थिक पुनरुत्थान और सभी के आर्थिक उत्थान की परिकल्पना करता है।

ग्रामीण और पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने प्रधानों को कोरोना वायरस की जांच के लिए प्रदेश सरकार को पूरा सहयोग प्रदान करने के लिए धन्यवाद किया।

जिला परिषद मंडी की अध्यक्षा सरला ठाकुर, कुल्लू जिला की ग्राम पंचायत नम्होग के प्रधान किशन चंद, मण्डी जिला की ग्राम पंचायत कैहड़ की प्रधान अंजना कुमारी, जिला परिषद कुल्लू के सदस्य हितेश्वर, ग्राम पंचायत खरगाह के प्रधान जय सिंह और अन्य प्रधानों ने इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त किए।

Himachal News की खबरों के वीडियो देखने के लिए और Updates के लिए हमारे Facebook Page Himachal News7 और Himachal News TV को Like करें व हमारे YouTube चैनल Himachal News TV को Subscribe करें।

Have something to say? Post your comment