हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Monday, November 19, 2018
Follow us on
मनोरंजन

बाघल उत्सव में दिखेगा हिमाचल संस्कृति का आईना

November 03, 2018 06:32 PM

अर्की (सोलन) : हिमाचल की संस्कृति को सरंक्षित रखने व ग्रामीण क्षेत्रों में छुपी प्रतिभा को मंच प्रदान करने को लेकर अर्की के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में एक बैठक आयोजित की गई । इस बैठक की अध्यक्षता समाजसेवी पदम वर्मा व नमिता शर्मा ने की । बैठक में आने वाले कुछ महीनों में बाघल उत्सव करने बारे चर्चा व इसकी रूपरेखा तैयार की गई । पदम वर्मा व नमिता शर्मा के अनुसार बाघल उत्सव को अर्की में शुरू किया जाएगा जिससे क्षेत्र में छिपे हुए होनहार कलाकारों को निखारने में बल मिलेगा । उन्होंने कहा कि हम आज पाश्चात्य रंग में इतने डूब चुके है कि अपनी पहाड़ी संस्कृति को बिल्कुल ही भूल चुके है ।उन्होंने कहा कि हम हिमाचली अपने संस्कारो से जाने जाते थे परन्तु आज हम अपनी सांस्कृतिक बोली हो या गीत संगीत हो हम उनसे कोसो दूर चले गए है, जिन्हें हम सभी को संजोने की जरूरत है । उन्होंने कहा कि बाघल उत्सव से हम बच्चो से लेकर युवा वर्ग सहित लोगो मे छिपी प्रतिभा को एक नया मंच देंगे। उन्होंने कहा कि हमारी विलुप्त हो रही प्रथाओं ओर संस्कृति जिनमे बाघल का करियाला, बरलाज व गुग्गा गीत जो कि पहले हर गांवों में हर ऋतु के अनुसार होता था आज हम उनसे दूर होते जा रहे है । आज हम आने वाली पीढ़ी को इनके बारे इस मंच से अवगत करवाएंगे व खो चुकी परम्पराओं को पुनर्जीवित करने का प्रयास करेंगे । इस अवसर पर अर्की द बाघल स्टेट ग्रुप से योगेश चौहान, मनोज शर्मा , देवेंद्र वर्मा , रमेश ठाकुर, नकुल शर्मा,पुष्पेंद्र ठाकुर, अनुज गुप्ता, योगेश शर्मा और गौरव गुप्ता उपस्थित रहे।

Have something to say? Post your comment