हिंदी ENGLISH ਪੰਜਾਬੀ Wednesday, December 19, 2018
Follow us on
राजनीति

राजेंद्र राणा का तंज : जनता के सवालों का क्या जबाव देंगे पन्ना प्रमुख

हिमाचल न्यूज़ | November 30, 2018 01:00 PM

हमीरपुर : विधायक राजेंद्र राणा ने मंडी में केंद्रीय गृह मंत्री द्वारा पन्ना प्रमुखों के सम्मेलन में किए गए आह्वान पर चुटकी लेते हुए कहा है कि भाजपा को अपने पन्ना प्रमुखों को यह प्रशिक्षण भी देना चाहिए कि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों में जब जनता उनसे पिछले वायदों का हिसाब मांगेगी तो पन्ना प्रमुख जनता के सवालों का क्या जवाब देंगे। 

आज यहां जारी एक बयान में राजेंद्र राणा ने कहा कि जब प्रदेश की जनता भाजपा के पन्ना प्रमुखों से यह पूछेगी कि विदेशों से काला धन वापस लाकर मोदी सरकार ने हर देशवासी के बैंक खाते में 15- 15 लाख रुपए डालने का वायदा क्यों नहीं निभाया तो पन्ना प्रमुख क्या जवाब देंगे। जब युवा वर्ग उनसे पूछेगा कि हर साल 2 करोड युवाओं को मोदी सरकार द्वारा रोजगार देने का वायदा पूरा क्यों नहीं हुआ तो इस सवाल का भी उनके पास क्या जवाब होगा।

राजेंद्र राणा ने कहा कि पन्ना प्रमुखों से जनता यह भी जानना चाहेगी की रसोई गैस के दाम दोगुने से भी ज्यादा क्यों हो गए और महंगाई पर नकेल कसने का वायदा भाजपा क्यों नहीं निभा पाई। उन्होंने कहा लोकसभा चुनावों से पहले मोदी जी ने अपने भाषणों में कहा था कि अगर दुश्मन देश हमारे एक सैनिक को शहीद करेगा तो हम एक सिर के बदले 10 सर लाएंगे लेकिन क्या सचमुच मोदी सरकार ने ऐसा किया ? क्या सीमा पर शहादतों का सिलसिला रुक पाया। राजेंद्र राणा ने कहा कि देश की करेंसी की कीमत औंधे मुंह क्यों गिरी और पूर्व मनमोहन सरकार में जिस डॉलर की कीमत 55 रुपए थी, वह डॉलर 74 रुपये तक कैसे पहुंच गया। उन्होंने कहा पन्ना प्रमुखों के पास इस सवाल का भी क्या जवाब होगा कि मोदी शासन में भी देश में किसानों की आत्महत्याओं का ग्राफ किस लिए बड़ा और लाखों किसानों ने कर्ज़ों के मकड़जाल में उलझ कर आत्महत्या क्यों की। 

उन्होंने कहा कि क्या पन्ना प्रमुखों के पास इस सवाल का जवाब है कि जिस नोटबंदी के लिए देश की आम जनता को मोदी सरकार ने लाइनों में लगा दिया था, उस जनता को नोट बंदी का क्या लाभ मिला। उन्होंने कहा लोग पन्ना प्रमुखों से ही यह भी पूछेंगे की जीएसटी की मार ने छोटे व्यापारी तबके को क्यों तबाह कर दिया और देश की अर्थव्यवस्था पाताल में क्यों पहुंच गई।

राजेंद्र राणा ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनावों के दौरान मोदी जी व भाजपा नेताओं ने जनता से जो बड़े-बड़े वायदे किए थे, वे चुनावी जुमला बनकर ही क्यों रह गए और एक भी वायदा हकीकत में क्यों नहीं बदला। उन्होंने कहा भाजपा के झूठ की हांडी बार बार नहीं चढ़ने वाली और जनता भाजपा नेताओं की कथनी व करनी में अंतर साफ समझ गई है।

Have something to say? Post your comment
और राजनीति खबरें