हिंदी ENGLISH Thursday, February 09, 2023
Follow us on
 
टेक्नोलॉजी
05 और 15 वर्ष के सभी विद्यार्थियों के आधार होंगे अपडेट, जानिए वजह

प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थानों में 05 और 15 वर्ष के सभी विद्यार्थियों के आधार की बायोमेट्रिक अपडेट होगी। इसके लिए संस्थानों में आवश्यक बायोमेट्रिक अपडेट शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

जोशीमठ जैसी आपदाओं की पूर्व सूचना के लिए विकसित होगी नई तकनीक, मुख्यमंत्री ने दिए ये निर्देश

हिमाचल प्रदेश अपने प्राकृतिक सौंदर्य, बर्फ से ढके हिमालय और नयनाभिराम दृश्यावलियों के लिए जाना जाता है जो हर वर्ष लाखों घरेलू और विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करती हैं। लेकिन यहां भूस्खलन, बादल फटने और अचानक बाढ़ व अन्य प्राकृतिक आपदाओं के संभावित खतरे भी लगातार बने रहते हैं।

खुशखबरी : इस दिन तक पूरे हिमाचल में उपलब्ध होगी 5G सुविधा

सूचना प्रौद्योगिक विभाग वर्ष 2024 के अंत तक हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में 5जी सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है ताकि लोगों को और बेहतर और सुसंगत इंटरनेट सुविधा प्रदान की जा सके।

हिमाचल का अपना मैसेंजर Him TEXT बहुत जल्द होगा Play Store व App Store पर लांच

शिमला जिला के कोटगढ़  जरोल के निकट के गांव में रहने वाले मात्र 16 बर्षीय हर्षित द्वारा बनाया गया हिमाचल का पहला Social App Him Text कुछ ही समय में लांच होने जा रहा है। हर्षित ने एक ऐसा मोबाइल एप बनाकर तैयार किया है जो बिलकुल सुरक्षित और अलग डिजाइन के साथ देखने को मिलेगा।

बच्चों के लिए वरदान साबित हो रहा है शिक्षा में तकनीक का उपयोग

हिमाचल न्यूज़ । कोरोना महामारी में विद्यार्थियों की पढ़ाई निर्बाध जारी रखने के लिए प्रदेश सरकार ने कई अभिनव कार्यक्रम शुरू किए हैं। केन्द्र सरकार के डिजिटल इण्डिया कार्यक्रम का उद्देश्य तकनीक के माध्यम से लोगों को एक डिजिटल सोल्यूशन प्रदान करना है।

डॉ. कमलजीत सोई ने हिमाचल के सार्वजनिक वाहनों में लगी लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइस पर उठाए बड़े सवाल

अंतर्राष्‍ट्रीय सड़क सुरक्षा विशेषज्ञ और भारत सरकार की सड़क सुरक्षा परिषद के सदस्य डॉ. कमलजीत सोई ने कहा कि हिमाचल प्रदेश राज्य में राष्ट्रीय परमिट वाले सार्वजनिक सेवा वाहनों और माल वाहनों में AIS 140 युक्‍त वाहन लोकेशन ट्रैकिंग डिवाइसों पर सवाल उठाए हैं।

हिमाचल लगेंगे स्मार्ट बिजली मीटर, जानिए क्या है खासियत

हिमाचल मे बिजली के उपभोक्ताओं को जल्द ही स्मार्ट बिजली के मीटर की सुविधा मिल जाएगी। राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने आज राजभवन में अतिरिक्त मुख्य सचिव ऊर्जा तथा वन राम सुभग सिंह के साथ बैठक के दौरान लाॅकडाउन के उपरांत गतिविधियों को पुनः सुचारू बनाने की रणनीतियों तथा ऊर्जा से संबंधित मामलों पर चर्चा की। राज्यपाल ने मीटर रीडिंग की प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए उपभोक्ताओं को स्मार्ट बिजली के मीटर की सुविधा प्रदान करने पर बल दिया।

मुख्यमंत्री के क्लिक करते ही डिजिटल हुआ आयुर्वेदिक एवं यूनानी चिकित्सा पद्धति बोर्ड

मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे डॉक्टरों और अन्य कर्मचारियों को सुविधा होगी क्योंकि अब वे ऑनलाइन पंजीकरण करवा सकेंगे, जिससे उनका समय और धन की बचत होगी अन्यथा उन्हें अपने पंजीकरण और नवीनीकरण के लिए कार्यालय में जाना पड़ता था।