हिंदी ENGLISH Tuesday, May 17, 2022
Follow us on
 
राज्य

कर्फ्यू पास के चक्‍कर में सोशल डिस्टेंसिंग भूले लोग

अखिल वोहरा : जीरकपुर | May 05, 2020 04:44 PM
PHOTO : अखिल वोहरा, जीरकपुर

नगर परिषद के दफ्तर में नहीं हो रहा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन 
कर्फ्यू पास लेने के लिए जीरकपुर नगर परिषद के दफ्तर में रोजाना सैंकड़ों लोग आ रहे हैं लेकिन कोरोना वायरस की गंभीरता को लोग बिल्‍कुल ही नजरअंदाज कर सिर्फ कर्फ्यू पास जारी करवाने तक संजीदा देखे जा सकते हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नगर परिषद के दफ्तर में बिल्‍कुल भी नहीं हो रहा है न ही नगर परिषद दफ्तर में काम कर रहे कर्मचारी इस ओर ध्‍यान दे रहे हैं और न ही लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन खुद कर रहे हैं। इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि अगर कोई संक्रमित व्‍यक्ति इस दफ्तर में आ जाए तो वह कितना नुकसान और लोगों को पहुंचा सकता है। इस संबंध में जीरकपुर नगर परिषद के आला अधिकारियों को ही दफ्तर में पुख्‍ता बंदोबस्‍त करने होंगे ताकि वह यहां आने वाले लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाया जा सके। बता दें कि मुंह पर लगाया मास्‍क भी कई बार इतने कारगार साबित नहीं होते और संक्रमित व्‍यक्ति के नजदीक जाने पर ये विषाणुयुक्‍त कण सांस के रास्ते किसरी के भी शरीर में प्रवेश कर सकते हैं।

इस लिए जरूरी है सोशल डिस्टेंसिंग 
जब कोई व्‍यक्ति कोरोना से संक्रमित होता है वह भीड़भाड़ वाले ऐरिया में जा कर खांसता या छींकता है तो उसके मूंह से निकलने वाली थूक के बेहद बारीक कण हवा में फैल जाते है। इन कणों में कोरोना वायरस के विषाणु होते हैं। संक्रमित व्यक्ति के नज़दीक जाने पर ये विषाणुयुक्त कण सांस के रास्ते किसी के भी शरीर में प्रवेश कर सकते हैं। और अगर कहीं यह कण गिरें हो और कोई व्‍यक्ति ऐसी जगह को छु ले तब भी यह कण शरीर में प्रवेश कर जाते हैं।

जीरकपुर है कारोना वायरस मुक्त
मोहाली जिले के अंतर्गत आने वाला जीरकपुर शहर अभी तक कारोना वायरस मुक्‍त है। यहां कोई भी केस सामने नहीं आया है। वहीं जीरकपुर के साथ जगते डेराबस्‍सी के जवाहरपुर गांव में अब तक 43 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं बता दें कि डेराबस्‍सी से भी कई लोग जरूरी वस्‍तुओं की सप्‍लाई रोजाना जीरकपुर करने आते हैं ऐसे में जीरकपुर प्रशासन को इस ओर खास ध्‍यान देने की जरूरत है।

Have something to say? Post your comment
और राज्य खबरें