हिंदी ENGLISH Sunday, February 28, 2021
Follow us on
 
हिमाचल

अब बिना पहचान पत्र के सब्जी मंडी में नही जा सकेंगे लोग

आर के सिंह : मनाली | August 13, 2020 08:26 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर | PHOTO : Pexels.com

हिमाचल न्यूज : मनाली

कुल्लू जिला की सभी बड़ी सब्जी मंडियों में बिना पहचान पत्र के अब किसी भी व्यक्ति को प्रवेश नहीं मिलेगा और न ही बिना थर्मल स्क्रीनिंग के दाखिल होने दिया जाएगा। लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले को देखते हुए एपीएमसी व पुलिस ने सख्ती बढ़ा दी है।

सरकार के आदेशों के बाद जिला की बड़ी सब्जीमंडियों में एपीएमसी ने व्यापारियों, आढ़तियों, मजदूरों आदि के पहचानपत्र बनाने की सुविधा शुरू कर दी है। थर्मल स्क्रीनिंग भी की जा रही है। जिला में सेब सीजन के शुरुआती दौर में ही कोरोना से संबंधित बाहरी क्षेत्रों से आने वाले मजदूरों के मामले जहां दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं, वहीं प्रशासन के लिए भी सेब सीजन को सफलता पूर्वक अंजाम देना किसी चुनौती से कम नहीं है।

एपीएमसी ने सब्जी मंडियों में विशेष व्यवस्था की है। भुंतर, बंदरोल और खेगसू सब्जी मंडी में थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था कर दी गई है। एपीएमसी के अधिकारियों का कहना है कि कोरोना के खतरे को ध्यान में रख उचित कदम उठाए गए हैं। कुछ समय पहले ही बंदरोल के स्थानीय पंचायत के प्रतिनिधियों, आढ़तियों, बागबानों और किसानों ने सरकार से मांग की थी कि जिला की सब्जी मंडियों में प्रवेश करने वाले सभी व्यापारियों, आढ़तियों, मजदूरों आदि के पहचानपत्र जल्द से जल्द बनाए जाएं।

उन्होंने कहा था कि पहचान पत्र बनने से सब्जी मंडी के अंदर कोई बाहरी व्यक्ति प्रवेश नहीं कर पाएगा। उन्होंने सब्जी मंडियों के दोनों प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था करने की मांग भी की थी।

बागवान रमेश, सर्वदयाल व चुनी ने सब्जी मंडियों के प्रवेश द्वारों पर ही माइक लगाने की भी मांग की है। बाहरी चालकों का प्रवेश सिर्फ लोडिंग करते समय ही करवाया जाए।

एपीएमसी के सचिव सुशील गुलेरिया ने कहा है कि सभी कारोबार से जुड़े लोगों के पहचानपत्र बनाए जा रहे और थर्मल स्क्रीनिंग भी प्रवेश गेट पर हो रही है। सब्जी मंडियों में पुलिस व्यवस्था बेहतर की गई है।

एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने बताया कि जिला के प्रवेश द्वार बजौरा में पुलिस ने सतर्कता बढ़ा दी है। बाहरी जिले से आने वाले हर व्यक्ति की जांच पड़ताल करने व कोविड 19 की रिपोर्ट देखने के बाद ही जिले में प्रवेश दिया जा रहा है। बाहरी राज्य से आ रहे मजदूरों को सीधे कोरन्टीन सेंटर भेजा जा रहा है।

Posted By :Himachal News

Have something to say? Post your comment
और हिमाचल खबरें
मेडिकल कॉलेज के निर्माणाधीन भवन के कारण बंद हुई सड़क को बहाल करने की उठाई मांग
ठाकुर राम सिंह की जयंती पर आयोजित दो दिवसीय राज्यस्तरीय समारोह संपन्न, शिक्षा मंत्री ने बतौर मुख्यतिथि की शिरकत
झगड़ियानी में रविवार को आयोजित जनमंच में मुर्दाबाद के नारे लगने के बाद गरमाया सियासी पारा
बजरंग दल कार्यकर्ता रिंकू शर्मा की हत्या मामले में अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी हमीरपुर के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन, हत्यारों के लिए फांसी की की गयी मांग
सरकार के निर्देशों के बाबजूद निजी स्कूल वसूल रहे एनुअल चार्ज, अभिवावकों ने किया प्रदर्शन
ई-कैबिनेट प्रणाली लागू करने वाला देश का पहला राज्य बना हिमाचल, जानिए क्या क्या है खासियत
करतार सिंह ने केन्द्रीय बजट को लेकर कही ये बड़ी बाते
पोलियो से ऐसे लड़ेगा चंबा
परिवहन विभाग ने ऐसे जागरूक किए ऑटोमोबाइल डीलर्स
14 फरवरी को हरिपुर में होगा जनमंच कार्यक्रम