हिंदी ENGLISH Monday, September 21, 2020
Follow us on
 
खेत-खलिहान

‘हर खेत को पानी’ का सपना हो रहा साकार

हिमाचल न्यूज : हमीरपुर | August 22, 2020 08:21 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर | PHOTO : needplix.com

हिमाचल न्यूज : हमीरपुर  

“हर खेत को पानी” के सूत्र वाक्य के साथ प्रारम्भ की गई प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना हिमाचल प्रदेश के किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है। योजना के बेहतर कार्यान्वयन से हमीरपुर जिला में जल संचयन संरचनाओं तथा भंडारण टैंकों के निर्माण को बल मिला है। अभी तक दो दर्जन से अधिक संरचनाओं का निर्माण कर कई हैक्टेयर भूमि को सिंचाई के अंतर्गत लाया जा जुका है।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना एक जुलाई, 2015 को प्रारम्भ की गई थी। इस योजना का उद्देश्य जोत क्षेत्र का विस्तार करते हुए वहां निश्चित सिंचाई सुविधा प्रदान करना, पानी को व्यर्थ बहने से रोकना तथा जल के उपयोग की क्षमता बढ़ाना है, ताकि जल की प्रत्येक बूंद से अधिक से अधिक फसल उत्पादन सुनिश्चित किया जा सके। इसके अतिरिक्त यह योजना निश्चित सिंचाई सुविधा के लिए जल स्रोतों के निर्माण पर भी केंद्रित है।

वर्तमान प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में इस योजना का पूरे प्रदेश में सुचारू एवं त्वरित क्रियान्वयन सुनिश्चित किया है। हमीरपुर जिला में इस योजना के अंतर्गत गत दो वर्षों में कृषि विभाग द्वारा लगभग सवा करोड़ रुपए से अधिक की राशि व्यय की गई है। वित्त वर्ष 2018-19 में लगभग 67 लाख रुपए तथा वर्ष 2019-20 में 68 लाख रुपए इसके तहत व्यय किए जा चुके हैं।

योजना के अंतर्गत वर्ष 2018-19 में 8 जल संचयन संरचनाओं का निर्माण किया गया और एक सौर सिंचाई योजना स्थापित की गई। इसी प्रकार वर्ष 2019-20 में योजना को और गति प्रदान करते हुए 7 जल संचयन संरचनाओं का निर्माण किया गया। इसी वर्ष 7 सौर सिंचाई योजनाओं की स्थापना तथा दो जल भंडारण टैंकों का निर्माण भी इस योजना के अंतर्गत किया गया।

योजना के अंतर्गत प्राकृतिक जल भंडारण प्रणाली जैसे खातरी एवं कूहलों इत्यादि के सृजन एवं पुनर्द्धार पर भी बल दिया गया है। लघु सिंचाई (सतही एवं भूजल) के माध्यम से नए जल स्रोतों का सृजन भी इसका एक घटक है। इसके अतिरिक्त जल निकायों की मरम्मत, पुनः स्थापन एवं नवीकरण, परम्परागत जल स्रोतों की वाहक क्षमता का सुदृढ़ीकरण, वर्षा जल संचयन संरचनाओं का निर्माण भी योजना के अंतर्गत किया जा रहा है। पंचायतों के माध्यम से प्रस्ताव भेजकर योजना का लाभ उठाया जा सकता है।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना से न केवल हर खेत को पानी का सपना साकार हो रहा है, बल्कि खेती से मुंह मोड़ रहे किसानों में बेहतर सिंचाई सुविधा से उम्दा फसल उत्पादन का विश्वास भी बढ़ा है।

Posted By :Himachal News

Have something to say? Post your comment
और खेत-खलिहान खबरें
मशरूम उत्पादन के जुनून ने पृथीचंद को दिलाया प्रगतिशील किसान का राष्ट्रीय पुरस्कार
9.61 लाख किसानों को प्राकृतिक खेती के तहत लाया जाएगाः मुख्यमंत्री
कुटलैहड़ के कोठियां में चाय-कॉफी का उत्पादन कर मालामाल होंगे किसान
Agriculture News : जायका चरण दो में 1104 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट वित्त पोषित करने का प्रस्ताव
Agriculture News : इस परियोजना से मजबूत होगी किसानों की आर्थिकी
किसान उत्पादक संगठन बनाएगा कृषि को बिचैलिया मुक्त
वर्ष 2022 तक हिमाचल को पूर्णतः प्राकृतिक खेती के दायरे में लाने का लक्ष्यः कंवर
बागवानों को बड़ी राहत, भट्ठाकुफर फल मंडी में इस दिन शुरू होगा सेब कारोबार
Breaking News : शराब की बोतल से बेसहारा पशु मुक्त राज्य बनाएंगे हिमाचल को
हिमाचल के बागवानों को पड़ा यह साल मंहगा