हिंदी ENGLISH Wednesday, December 01, 2021
Follow us on
 
राजनीति

सेब बाग़वानी के क्षेत्र में कांग्रेस का महत्वपूर्ण योगदान

हिमाचल न्यूज़ : जुब्बल - कोटखाई | October 15, 2021 06:11 PM
फोटो - हिमाचल न्यूज़

हिमाचल न्यूज़ । जुब्बल व कोटखाई विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उप-चुनाव में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व वर्तमान में उत्तराखंड विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता प्रीतम सिंह ने पन्द्राणु, नन्दपुर, अन्टी और सरस्वती नगर (सावडा) में कांग्रेस प्रत्याशी रोहित ठाकुर के पक्ष में चुनावी प्रचार किया और जनसभाओं को संबोधित किया।

प्रीतम ने कहा कि जुब्बल व कोटखाई हिमाचल के विकास पुरुषों पूर्व मुख्यमंत्री ठाकुर रामलाल और पूर्व मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह की कर्मभूमि रही हैं जिन्होंने इस क्षेत्र में बाग़वानी, सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य क्षेत्र की नींव रखी। विश्व के मानचित्र पर जुब्बल-कोटखाई को सेब बहुलीय क्षेत्र के रूप में पहचान दिलाने में इन्ही दो विकासपुरुषों का योगदान रहा हैं।

उन्होंने कहा कि रोहित ठाकुर ने बाग़वानी, शिक्षा, सड़क, बिजली आदि विकास के कार्य को आगे बढ़ाते हुए जुब्बल- कोटखाई में नए आयाम स्थापित करने में अहम भूमिका निभाई हैं। बाग़वानी क्षेत्र में ढांचागत विकास का जीता-जागता उदाहरण ठियोग-हाटकोटी सड़क योजना हैं। कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में पूर्व मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह के आशीर्वाद से रोहित ठाकुर के अथक प्रयासों से ठियोग-हाटकोटी सड़क योजना का कार्य 92% तक कार्य मुक्कमल हो पाया।

उन्होंने कहा कि रोहित ठाकुर ने बाग़वानों को घर-द्वार पर सुविधा देने के लिए अणु में सेब मंडी और कोल्ड स्टोर स्वीकृत करवाया था जिसे भाजपा सरकार के सत्ता में आते ही रोक दिया। जुब्बल-कोटखाई में शिक्षा के ढांचे को मजबूत करने के लिए कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में 32 सीनियर सेकेंडरी स्कूल खोलें गए, 2012-17 के कांग्रेस कार्यकाल में रोहित ठाकुर ने विधायक रहते हुए जुब्बल-कोटखाई में 250 करोड़ का बजट विभिन्न योजनाओं के तरहत सड़को के निर्माण के लिए स्वीकृत करवाया।

प्रीतम सिंह ने कहा कि रोहित ठाकुर हमेशा बाग़वानों, युवाओं की आवाज़ उठाते रहें हैं। उन्होंने क्षेत्र की जनता से भाजपा और अन्य दलों के झूठे झांसे में न आकर जुब्बल नावर कोटखाई के भविष्य की मजबूती के लिए रोहित ठाकुर को भारी मतों से जीत दिलाने की अपील की।

कांग्रेस प्रत्याशी रोहित ठाकुर ने कहा कि 2017 में मोदी सरकार ने हिमाचल की जनता से बड़े-2 वादें किए थे जिसमें 2022 तक किसानों-बागवानों की आय दोगुनी करना शामिल था। चार सालों में आय बढ़ने की बजाए लगातार घट रही हैं जिससे कृषि-बाग़वानी घाटे का सौदा साबित होती जा रही हैं। सरकार ने इस वर्ष  कार्टन में 20 से 25% की वृद्वि की उसके बाद अब जीएसटी की दर बढ़ाकर कार्टन और ट्रे को पहले से भी अधिक महँगा कर दिया है। कीटनाशक, फफूंदनाशक पर उपदान ख़त्म करने के साथ-2 उर्वरकों का मूल्यों में वृद्वि कर दी। डबल इंजन की सरकार की ग़लत नीतियों से पढ़े-लिखे युवा, व्यापारी, मजदूर और पर्यटन उद्योग से जुड़े उद्यमी कठिन दौर से गुज़र रहे है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने की बजाय भाजपा सरकार बाहरी राज्यों के युवाओं को नौकरियां बांट रही है।  सत्ता और विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस पार्टी ने हमेशा बाग़वानों के हितों की लड़ाई लड़ी हैं।

Posted By : Himachal News

Have something to say? Post your comment
और राजनीति खबरें
4 साल पूर्व की कसर को करेंगे पूरा : मंगल पांडेय
मोदी सरकार की तानाशाही के खिलाफ जनमत होगा यह उप चुनाव : प्रतिभा
मुद्दा नहीं मिला तो सेना को निशाना बनाने लगी कांग्रेस: जयराम ठाकुर
कोविड के समय हमारी सरकार ने निभाया राज धर्म, संगठन ने निभाया मानवता धर्म : खन्ना
क्या बदला जाएगा हिमाचल का मुख्यमंत्री?
इन्हें सौंपी कांग्रेस पार्टी को बूथ स्तर तक मजबूत करने की जिम्मेदारी
अदानी की लूट से बागवानों को बचाए : राठौर
एकजुट होकर करेंगे वीरभद्र सिंह के अधूरे सपनो को पूरा : संजय दत्त
राजेंद्र राणा ने सरकार पर दागे ये बड़े सवाल
बीडीसी के उपाध्यक्ष बनने के बाद कमलेश कुमार ने अपनी पार्टी को लेकर कही ये बड़ी बात