हिंदी ENGLISH Thursday, February 09, 2023
Follow us on
 
पर्यटन

इस योजना से हर मौसम में पर्यटकों को आकर्षित करेगा हिमाचल

हिमाचल न्यूज़ : कुल्लू | November 25, 2022 06:47 PM
फोटो - हिमाचल न्यूज़

हिमाचल न्यूज़। हिमाचल प्रदेश ऑल वेदर टूरिस्ट डैस्टीनेशन की ओर अग्रसर हो रहा है। वहीं बुदिष्ट टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए प्रयास जारी है और कई अन्य देशों के साथ शीघ्र एमओयू साईन हो रहे हैं। यह बात हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय और हिमाचल केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सत प्रकाश बंसल ने शुक्रवार को कुल्लू जिला के रायसन में इंटरनेशनल टूरिज्म कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कही।

हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय और इंडियन टूरिज्म हॉस्पिटैलिटी कांग्रेस के संयुक्त तत्वाधान में 12वीं इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस हिमालय वैगा बांड कैंप. कुल्लू जिला के रायसन में शुरू हुआ। 25 से 28 नवंबर तक इस कांफ्रेंस का आयोजन किया जा रहा है। इस कांफ्रेंस का मुख्य उद्देश्य प्री कोविड-19 और पोस्ट कोविड-19 कोविड के कारण जो भी क्षति पर्यटन को पहुंची है उस पर एक मंथन करना है। इस दौरान पर्यटन को बढ़ावा देने को लेकर कई प्रस्ताव पारित किए जा रहे हैं।

इस कॉन्फ्रेंस में भारत और विदेश के विभिन्न विवि से 150 प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। इस अवसर पर बतौर मुख्यातिथि सत पाल बंसल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं और हम पर्यटकों को इस प्रदेश की ओर आकर्षित करने के प्रयास कर रहे हैं। जबकि सरकारी तौर पर भी प्रयास  जारी है और यहां इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बनने व बड़े स्तर के होटल बनने से पर्यटकों को आधुनिक सुविधा मिलेगी।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को सर्किट टूरिज्म से जोड़ने के भी प्रयास हो रहे हैं। उन्होंने जानकारी दी कि कांफ्रेंस के दौरान 9 सत्र तकनीकी सत्रों का आयोजन किया जा रहा है। इन तकनीकी सत्रों में हुए मंथन से एक प्रस्ताव तैयार किया जाएगा। उसे केंद्र सरकार और राज्य सरकार को भेजा जाएगा, जिससे कि वह पिछड़ चुके पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा दिए जाने को लेकर योजनाएं तैयार की जा सकें।

विश्वविद्यालय के पर्यटन विभाग की ओर से एक सेंटर ‘प्रोमोशन आफ इकोलॉजिकल, एडवेंचर, हेल्थ एंड कलचरल टूरिज्म’ का उद्घाटन किया गया है उसे सेंटर फॉर एक्सीलेंस बनाए जाने के लिए यह कॉन्फ्रेंस काफी महत्वपूर्ण है। इस कांफ्रेंस के विषय के अनुसार जो महत्वपूर्ण बातें निष्कर्ष के रूप में उभर के सामने आएंगी उसे विश्वविद्यालय की तरफ से एडाप्ट किया जाएगा। जिसे आने वाले समय में इस सेंटर को बढ़ावा मिल सके। इसमें विदेशों से भी शोधार्थियों को शोध करने के लिए आमंत्रित किया जाएगा।

कार्यक्रम में गेस्ट ऑफ ऑनर सरदार वल्लभभाई पटेल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डीडी शर्मा और पंजाब विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राजकुमार रहे। इसके अलावा इसमें प्रो. दीपक राज गुप्ता, प्रो. संदीप कुलश्रेष्ठा, प्रो. प्रशांत गौतम और हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय से विशाल सूद और पर्यटन विभाग के डीन प्रो. सुमन शर्मा और विभागाध्यक्ष डॉ आशीष नाथ मौजूद रहे।

Posted By : Himachal News

हिमाचल की ताजा अपडेट के लिए Join करें हिमाचल न्यूज़ का WhatsApp Group

Have something to say? Post your comment
और पर्यटन खबरें
कोरोना काल से उभरा हिमाचल का पर्यटन व्यवसाय, प्रदेश में इस वर्ष पहुंचे 1 करोड़, 27 लाख पर्यटक
साहसिक टूरिज़्म गतिविधियों का केन्द्र बनेगा अंदरौली
हिमाचल में पंचवटी पार्क से आएगी बहार, ये सुविधाएं मिलेगी
हिमाचल को इंडिया टूडे पर्यटन अवार्ड-2019
सैलानियों के लुभाते 'इग्लू' : खासियत देखकर आप भी होंगे इसके दीवाने
देखें, मनाली की कोठी गांव में बर्फबारी का नजारा जानिए पर्यटन, मनोरंजन पार्क और फिल्म सिटी के लिए क्या योजना है मुख्यमंत्री की ट्रायल सफल, अब इस दिन से कालका-शिमला रेलवे ट्रैक पर दौड़ेगी विस्टा डोम कोच, जानिए क्या है खासियत हिमाचली व्यंजनों का स्वाद चखना है तो यहां आइए यहां बारिश होना किसी अजूबे से कम नही